Heart attack kaise aata hai ke lakshan

महिलाओं में हार्ट अटैक के कारण महिलाओं में हार्ट अटैक के लक्षण हार्ट अटैक आने पर क्या करें हार्ट अटैक कैसे आता है दिल का दौरा पड़ना एक ऐसी प्रक्रिया है जो महिला और पुरुष किसी को भी हो सकती है इसकी प्रमुख कारण क्या होते हैं यह जानेंगे साथ में हार्ट अटैक की समस्या क्यों बढ़ती जा रही है यह भी जानना आवश्यक है 

दिल पूरे शरीर में खून को भेजने के लिए आवश्यक अंग है इसके अंदर दो चेंबर पाए जाते हैं जिसमें शुद्ध अशुद्ध blood होत है ऑक्सीजन की मात्रा जिसमें होती है उसे शुद्ध खून बोलते हैं तथा जिस में कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा होती है उसे अशुद्ध कौन बोलते हैं


Heart attack kaise aata hai  


खून को शरीर के अलग-अलग हिस्सों में भेजा जाता है इंसान के शरीर में दिल 1 दिन में लगभग 1 लाख और 1 मिनट में 60 से 90 बार धड़कता है इन धड़कनों में एक निश्चित अंतराल होता है अगर इस अंतराल में अचानक अंतर आए तो यह अटैक की संभावना बन सकती है 


हार्ट अटैक से बचना है तो खानपान का सही रखना और हार्ड का तंदुरुस्त रखना बहुत आवश्यक है आजकल खानपान का गलत तरीका असमय आने वाले अटैक का कारण हो सकता है आपको बता दें कि सौरव गांगुली जो कि बीसीसीआई के अध्यक्ष हैं उनको भी दिल का दौरा पड़ चुका है 


Heart attack ke lakshan


अत्यधिक कोलेस्ट्रॉल खाने या तेल मिर्च मसाला खाने से व्यायाम ना करने से दिल की नसों में फेट जमा होने लगता है जो एक तरह से दिल को फैलने व सिकुड़ने में अड़चन पैदा करता है या


 धमनियों के अंदर प्लेग जमा होना लेग नसों को कमजोर यानी सकरा बना देता है जिससे खून के बहाव में परेशानी आती है जो एक हार्ड के अटैक का कारण बन सकती हैं


 धमनी में प्लेग जमा होने के कारण दौड़ भाग वाला काम करते रहते हैं तो दिल का दौरा पड़ने का खतरा बढ़ जाता है शरीर को ज्यादा ऊर्जा देने के लिए दिल बहुत तेजी से धड़कने लगता है लेकिन धमनी में प्लेज जमा 


होने की वजह से हार्ड का जितना अधिक धड़कता है उससे उसके अंदर की कपाट कमजोर होते हैं और आपस में रगड़ की वजह से भी आड में कमजोरी होने लगती है या वह अचानक से काम करना बंद कर देता है यह भी हार्ड अटैक में आता है हार्ड की तकलीफ से जुड़े कुछ लक्षण ऐसे होते हैं जो दूसरी भी बीमारियों से मिलते जुलते हैं 


इसको हम शाम अंतर नजर अंदाज करते रहते हैं जिस से उल्टी आना चक्कर आना हार्ट की बीमारी के भी लक्षण हो सकते हैं हार्ड वाले केस में कई बार चक्कर आने लगते हैं इसके अलावा अगर सांस फूल रही है तो भी आपको हार्ड अटैक की संभावना मानकर लेकर चलना चाहिए 


अगर आपके लेफ्ट हैंड में दर्द होता है हार्ड का संकेत हो सकता है यह जबड़े तक जाता है दर्द तो भी आपको 8 की संभावनाएं दिखा लेना चाहिए अगर आपको कई दिनों से खांसी होती है या फिर आपके हाथ पैरों में सूजन आती है तो भी आपको अपने हार्ड को चेक करवा लेना चाहिए


महिलाओं में हार्ट अटैक 


वैसे तो दिल का खतरा बच्चों से लेकर बड़ों तक किसी को भी हो सकता है लेकिन पूरे विश्व में तेजी से फैल रही इस बीमारी को अगर सही समय पर इसका ट्रीटमेंट नहीं किया जाता है तो मृत्यु होने की संभावना 90% तक बढ़ जाती है शुरुआती चेतावनी या कैसे समझे हार्ड अटैक को दिल का दौरा पड़ने से पहले कुछ लक्षण विशेष तौर पर मिलते रहते हैं 


कई बार हार्ड अटैक पहले अगर छाती में दर्द या दवा दिल का दौरा पड़ने के सबसे सामान्य से लक्षण है शरुआती पहचान में से दिल के दौरे को लक्षणों को जानना आपके लिए बहुत जरूरी है रोजमर्रा की जिंदगी आप अपनी सेहत को उतना ही ख्याल रखें जितना आप अपने अपनों का रखते हैं


परसों की अपेक्षा महिलाओं में हार्ट प्रॉब्लम अधिक होने की संभावना रहती है


महिलाओं में हार्ट अटैक के कुछ लक्षण आपको बताए जाते हैं जबड़े में दर्द होना महिलाओं में हार्ड अटैक के प्रमुख लक्षण है क्योंकि इसके पास जो नशे होती हैं वह हृदय से निकलती हैं यह दर्द थोड़ी थोड़ी देर में होता रहता है अगर सांस लेने में परेशानी हो रही है अथवा खांसी के दौरान भी भारी सांस लेती है तो ऐसी संभावना में हार्ड की समस्या होने की अधिक संभावना होती है 


अगर किसी महिला की 55 साल से उम्र है तो हार्मोन के बदलाव की वजह से अचानक पसीना आना बहुत सामान से लक्षण हैं ना कि अचानक पसीना आने से हार्ड अटैक के लक्षण भी हो सकते हैं महिलाओं में सीने और स्तन में दर्द होता है ऊपरी भाग में योनि यात्रा गर्दन पीठ दांत भुजाएं कंधे की जगह हड्डियों में दर्द होना यह भी लक्षण होते हैं

أحدث أقدم